कृषि विभाग,

उत्तर प्रदेश

पारदर्शी किसान सेवा योजना,

किसान का अधिकार किसान के द्वार

गेंहू

रबी गेंहू कठिया (डयूरम) गेहूँ की खेती जौ जई तोरिया (लाही) राई और सरसों पीली सरसों अलसी कुसुम रबी मक्का शिशु मक्का (बेबी कॉर्न) की खेती चना मटर मसूर रबी राजमा बरसीन रबी शाकभाजी एवं मसाला फसलों के प्रभावी बिन्दु बोरो धान की खेती आलू उत्पादन की तकनीकी प्रदेश में आलू उत्पादन हेतु प्रमुख प्रजातियाँ मशरूम की खेती सहफसली खेती कांस उंप मोथा का रसायनों द्वारा नियंत्रण संतुलित उर्वरक प्रयोग में नीम लेपित यूरिया का उपयोग एकीकृत पोषक तत्व प्रबन्धन कृषि उत्पादों में जैव उर्वरकों की महत्ता एवं उपयोग नादेव (नैडप) कम्पोस्ट जैविक कृषि में केंचुआ खाद जैविक कृषि में केंचुआ खाद रबी हेतु उपयोगी कृषि यंत्र बौछारी (स्प्रिंकलर) सिंचाई विधि रबी के मौसम में ऊसर सुधार कार्यक्रम जैविक एजेंट एवं जैविक कीटनाशकों के प्रयोग द्वारा कृषि रक्षा प्रबन्धन एकीकृत नाशीजीव प्रबंधन (इंटीग्रेटेड पेस्ट मैनेजमेंट) विभागीय कृषि रक्षा इकाइयों पर उपलब्ध फसल सुरक्षा रसायनों का नाम व मूल्य प्रतिबन्धित रसायनों की सूची प्रतिबंधित कीटनाशकों की सूची प्रमुख रसायनिक फसलों के आंकड़े उर्वरको की पहचान किसान काल सेन्टर मौन पालन एक लाभदायक व्यवसाय बीज उत्पादक कम्पनियों के नाम महत्वपूर्ण दूरभाष नम्बर

जलवायुविक क्षेत्रवार गेहूँ की संस्तुत प्रजातियाँ

1. भावर एवं तराई क्षेत्र जनपद

सहारनपुर, मुजफ्फर नगर, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, शाहजहाँपुर, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, बहराइच एवं श्रावस्ती का उत्तरी भाग।

बुआई का समय अ. अक्टूबर का द्वितीय पक्ष
असिंचित दशा एच.यू.डब्लू-533, के. 8027 के.-9351 एच.डी.-2888
बुआई का समय ब. नवम्बर का प्रथम पक्ष (भावर भूमि के लिए)
असिंचित दशा के.-8027, के. 8962, के.-9465, के. 9351
सिंचित दशा यू.पी.-2338, डब्लू.एच.-542, पी.बी.डब्लू.-343, यू.पी.-2382, एच.डी.-2687, के.-9107, पी.बी.डब्लू.-590, के.-9006, डी.बी.डब्लू-17, पी.बी.डब्लू-550, के-307 (शताब्दी)
बुआई का समय स. विलम्ब से बुआई 25 दिसम्बर तक।
सिचित दशा राज-3765, पी.बी.डब्लू.-373, के.-9162, यू.पी.-2425 नैना एन.डब्लू-1076, नैना (के.-9533), डी.बी.डब्लू.-14 डी.बी.डब्लू.-16, के.-9423, पी.बी.डब्लू.-590.

2. पश्चिमी मैदानी क्षेत्र जनपद

सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, बुलन्दशहर।

बुआई का समय अ. अक्टूबर का द्वितीय पक्ष से नवम्बर का प्रथम पक्ष
असिंचित दशा के.-8027 (मगहर), एच.यू.डब्लू.एस.-533
बुआई का समय ब. नवम्बर का द्वितीय पक्ष।
असिंचित दशा पी.बी.डब्लू.-175, के. 8027,, के.-8962, के.-9465, के. -9351, डब्लू. एच.-147
सिंचित दशा यू.पी.-2338, डब्लूएच.-542, पी.बी.डब्लू.-343, यू.पी.-2382, एच.डी.-2687, के.-9107, पी.बी.डब्लू.-502, के.-9006, डी.बी.डब्लू.-17, पी.बी.डब्लू.-550, के -307 (शताब्दी), एच.डी.-2967
बुआई का समय स. विलम्ब से बुआई 25 दिसम्बर तक।
सिंचित दशा राज-3765, यू.पी.-2338, पी.बी.डब्लू.-373, के.-8020, यू.पी.-2425, एन.डब्लू-1076, के-9423,
के.-7903, नैना (के-9533), डी.बी.डब्लू.-16

3. मध्य पश्चिमी मैदानी क्षेत्र जनपद

बिजनौर, ज्योतिबाफूलेनगर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, बदायूँ, पीलीभीत।

बुआई का समय-असिंचित दशा, सिंचित दशा-पश्चिमी मैदानी क्षेत्र के अनुसार।

4. दक्षिणी-पश्चिमी अर्धशुष्क क्षेत्र जनपद

अलीगढ़, हाथरस, मथुरा, आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा।

बुआई का समय अ. अक्टूबर का द्वितीय पक्ष।
असिंचित दशा के.-8027, एच.यू.डब्लू-533, के.-9351
बुआई का समय ब. नवम्बर का प्रथम पक्ष।
असिंचित दशा के.-8027, के.-8962, के.-9465, के.-9351, के.-9644
बुआई का समय स. समय से बुआई 25 नवम्बर तक।
सिंचित दशा पी.बी.डब्लू.-343, यू.पी.-2338, के.-9006, के.-9107, के.-307, एच. डी.-2687,यू.पी.-2382, पी.डी.डब्लू-233, पी.डी.डब्लू.-215, डब्लू.एच.-896, एच.आई.-8381, पी.बी.डब्लू.-502
बुआई का समय द. विलम्ब से बुआई 25 दिसम्बर तक।
मालवीय-234, यू.पी.-2338, राज-3077, राज-3765, पी.बी.डब्लू.-373, यू.पी.-2425, के.-9162, के.-7903, के.-9533, एन. डब्लू-1076, डी.बी.डब्लू-16
ऊसर क्षेत्र हेतु के.आर.एल. 1-4 के.-8434, के.आर.एल.-19, एन.डब्लू-1067, के.आर.एल.-210, के.आर.एल.-213, के.-8434

5. मध्य मैदानी क्षेत्र जनपद

शाहजहॉपुर, फर्रूखाबाद, कन्नौज, इटावा, औरैया, कानपुर नगर ,कानपुर देहात, फतेहपुर, कौशाम्बी, इलाहाबाद, लखनऊ, उन्नाव, रायबरेली, सीतापुर, खीरी, हरदोई।

बुआई का समय अ. अक्टूबर के द्वितीय पक्ष से नवम्बर के प्रथम पक्ष तक।
असिंचित दशा के.-8962, के.-9465, मालवीय-533, के.-9351, एच.डी.-2888
बुआई का समय ब.नवम्बर के प्रथम सप्ताह से 25 नवम्बर तक।
सिंचित दशा (समय से) पी.बी.डब्लू.-343, यू.पी.-2338, डब्लू एच.-542, के.-9107, के.-9006 एच.पी-1731, एन.डब्लू-1012, यू.पी.-2382, एच.यू.डब्लू.-468, पी.बी.डब्लू.-443, एच.डी. 2733, एच.डी. 2888, के.-307 (शताब्दी)
बुवाई का समय स. विलम्ब से बुआई 25 दिसम्बर तक।
सिंचित दशा मालवीय-234, के.-7903, यू.पी.2338, के.-9162, के.-9533, एच.डी.-2643, एच.पी.-1744, एन.डब्लू.-1014, यू.पी.-2425, एन.डब्लू.-2036, डी.बी.डब्लू.-14 पी.बी.डब्लू.-524 एन. डब्लू-1076, एच.यू.डब्लू.-510, के.-9423
खादर भूमि के लिय द. नवम्बर का द्वितीय पक्ष
के.-8962, के.-9465, एच.डी.आर.-77, के.-9351
ऊसर क्षेत्र हेतु (सिंचित दशा व समय से बुवाई) के.आर.एल. 1-4, के.आर.एल.-19, के.-8434
एन.डब्लू-1067, के.आर.एल.-210 एवं के.आर.एल.-213