कृषि विभाग,

उत्तर प्रदेश

पारदर्शी किसान सेवा योजना,

किसान का अधिकार किसान के द्वार

आलू उत्पादन की तकनीकी

रबी गेंहू कठिया (डयूरम) गेहूँ की खेती जौ जई तोरिया (लाही) राई और सरसों पीली सरसों अलसी कुसुम रबी मक्का शिशु मक्का (बेबी कॉर्न) की खेती चना मटर मसूर रबी राजमा बरसीन रबी शाकभाजी एवं मसाला फसलों के प्रभावी बिन्दु बोरो धान की खेती आलू उत्पादन की तकनीकी प्रदेश में आलू उत्पादन हेतु प्रमुख प्रजातियाँ मशरूम की खेती सहफसली खेती कांस उंप मोथा का रसायनों द्वारा नियंत्रण संतुलित उर्वरक प्रयोग में नीम लेपित यूरिया का उपयोग एकीकृत पोषक तत्व प्रबन्धन कृषि उत्पादों में जैव उर्वरकों की महत्ता एवं उपयोग नादेव (नैडप) कम्पोस्ट जैविक कृषि में केंचुआ खाद जैविक कृषि में केंचुआ खाद रबी हेतु उपयोगी कृषि यंत्र बौछारी (स्प्रिंकलर) सिंचाई विधि रबी के मौसम में ऊसर सुधार कार्यक्रम जैविक एजेंट एवं जैविक कीटनाशकों के प्रयोग द्वारा कृषि रक्षा प्रबन्धन एकीकृत नाशीजीव प्रबंधन (इंटीग्रेटेड पेस्ट मैनेजमेंट) विभागीय कृषि रक्षा इकाइयों पर उपलब्ध फसल सुरक्षा रसायनों का नाम व मूल्य प्रतिबन्धित रसायनों की सूची प्रतिबंधित कीटनाशकों की सूची प्रमुख रसायनिक फसलों के आंकड़े उर्वरको की पहचान किसान काल सेन्टर मौन पालन एक लाभदायक व्यवसाय बीज उत्पादक कम्पनियों के नाम महत्वपूर्ण दूरभाष नम्बर
क्र.सं. फसल आलू प्रजाति का नाम परिपक्वता अवधि (दिवस में) अभियुक्‍ति
  अगेती फसल      
1   कु० चन्द्रमुखी 80-90  
2   कु० पुखराज 60-75  
3   कु० सूर्या 60-75  
4   कु० ख्याति 60-75  
5   कु० अलंकार 65-70  
6   कु० बहार 3792ई. 90-110  
7   कु० अशोका पी.376जे. 60-75  
8   जे.एफ.-5106 75-80  
  मुख्य फसल:      
1   कु० नवताल जी. 2524 90-110  
2   कु० बहार 3792ई. 90-110  
3   कु० आनन्द 90-110  
4   कु० बादशाह 90-110  
5   कु० सिन्दूरी 90-110  
6   कु० सतलुज जे.-5857 90-110  
7   कु० लालिमा 90-110  
8   कु० अरूण 90-110  
9   कु० सदाबहार 90-110  
10   कु० पुखराज 90-110  
  अगेती फसल:      
1   कु० सतलुज जे.-5857 110-120  
2   कु० बादशाह 110-120  
3   कु० आनन्द 110-120  
  प्रसंस्करण योग्य प्रजातियाँ:      
1   कु० सूर्या 100-120  
2   कु० चिप्सोना-1 100-120  
3   कु० चिप्सोना-3 100-120  
4   कु० चिप्सोना-4 100-120  
5   कु० फ्राईसोना 100-120