कृषि विभाग,

उत्तर प्रदेश

पारदर्शी किसान सेवा योजना,

किसान का अधिकार किसान के द्वार

किसान काल सेन्टर

रबी गेंहू कठिया (डयूरम) गेहूँ की खेती जौ जई तोरिया (लाही) राई और सरसों पीली सरसों अलसी कुसुम रबी मक्का शिशु मक्का (बेबी कॉर्न) की खेती चना मटर मसूर रबी राजमा बरसीन रबी शाकभाजी एवं मसाला फसलों के प्रभावी बिन्दु बोरो धान की खेती आलू उत्पादन की तकनीकी प्रदेश में आलू उत्पादन हेतु प्रमुख प्रजातियाँ मशरूम की खेती सहफसली खेती कांस उंप मोथा का रसायनों द्वारा नियंत्रण संतुलित उर्वरक प्रयोग में नीम लेपित यूरिया का उपयोग एकीकृत पोषक तत्व प्रबन्धन कृषि उत्पादों में जैव उर्वरकों की महत्ता एवं उपयोग नादेव (नैडप) कम्पोस्ट जैविक कृषि में केंचुआ खाद जैविक कृषि में केंचुआ खाद रबी हेतु उपयोगी कृषि यंत्र बौछारी (स्प्रिंकलर) सिंचाई विधि रबी के मौसम में ऊसर सुधार कार्यक्रम जैविक एजेंट एवं जैविक कीटनाशकों के प्रयोग द्वारा कृषि रक्षा प्रबन्धन एकीकृत नाशीजीव प्रबंधन (इंटीग्रेटेड पेस्ट मैनेजमेंट) विभागीय कृषि रक्षा इकाइयों पर उपलब्ध फसल सुरक्षा रसायनों का नाम व मूल्य प्रतिबन्धित रसायनों की सूची प्रतिबंधित कीटनाशकों की सूची प्रमुख रसायनिक फसलों के आंकड़े उर्वरको की पहचान किसान काल सेन्टर मौन पालन एक लाभदायक व्यवसाय बीज उत्पादक कम्पनियों के नाम महत्वपूर्ण दूरभाष नम्बर

कृषि क्षेत्र की उत्पादन एवं उत्पादकता को टिकाऊ स्वरूप प्रदान करने तथा देश की खाद्यान्न उपलब्धता को अक्षुण्ण बनाने तथा कृषि प्रौद्योगिकी के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से कृषि मंत्रालय, कृषि एवं सहकारिता विभाग, नई दिल्ली द्वारा कृषकों की समस्याओं के निशुल्क निदान, उनकी ही भाषा में करने के उद्देश्य से 21 जनवरी, 2004 से किसान काल सेन्टर की स्थापना की गयी।

किसान काल सेन्टर लेविल -1:

उत्तर प्रदेश में किसान काल सेन्टर लेविल-1 की स्थापना भारत सरकार, कृषि मंत्रालय, कृषि एवं सहकारिता विभाग (डी.ए.सी.) द्वारा कानपुर में स्थापित किया गया है। जिसका संचालन टेलीकम्यूनिकेशन कन्सल्टेंट इण्डिया लि0 (इनफारर्मेशन टेक्नालॉजी डिवीजन), नई दिल्ली के सहयोग से केयरटेल-इनफोटेक लि0 संस्था द्वारा किया जाता है। पूर्व में निःशुल्क कॉल की सुविधा भारत दूर संचार निगम लि0 (बी.एस.एन.एल.) पर उपलब्ध थी। वर्तमान समय में किसान काल सेन्टर फ्री नम्बर 1551 की निःशुल्क काल की सुविधा बी.एस.एन.एल. पर उपलब्ध थी। वर्तमान समय में किसान काल सेन्टर टोल फ्री नम्बर 1551 की निःशुल्क काल की सुविधा बी.एस.एन.एल. के अतिरिक्त रिलायन्स, बोडाफोन तथा एयरटेल के दूरभाष पर भी उपलब्ध करा दी गयी है।

लेविल-1 का दूरभाष संख्या/कार्यविधि

दूरभाष संख्या 1551
समय प्रातः 6.00 बजे से रात्रि 10.00 बजे तक (सप्ताह के सभी दिन)
कार्य 1. कृषको द्वारा पूछे गये प्रश्नों का उत्तर उपलब्ध कराना।
  2. अनुत्तरित कृषकों की समस्याओं को लेविल-2 के दूरभाष पर स्थानान्तरित करना।

कानपुर स्थित किसान काल सेन्टर लेबिल-1 दूरभाष नम्बर 1551 के संचालन प्रबन्धक, श्री दीपक अग्रवाल (शाखा प्रमुख), 508/508ए, सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी, पार्क, यू.पी.एस.आई.डी.सी. काम्प्लेक्स, ए-1/4, लखनपुर, कानपुर-208024 (यू.पी.), फोन नम्बर 91-0512-2584914, फैक्स नम्बर - 91-0512-2582442 है।

किसान काल सेन्टर-1 के नोडल अधिकारी

इसके नोडल अधिकारी, प्रबन्ध निदेशक, राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम, 4 सीरी, इन्स्टीट्यूशनल एरिया, हौजखास, नई दिल्ली है एवं मुख्य निदेशक, राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम, सहकारिता भवन, 14-विधान सभा मार्ग, लखनऊ है।

किसान काल सेन्टर लेविल-1 के नोडल अधिकारी एवं सम्बन्धितत प्रदेश का विवरण

क्र.सं. प्रबन्ध का उत्तरदायित्व काल सेन्टर स्थिति सम्बन्धित प्रदेशों की सुविधा
1 निदेशक, कपास विकास, मुम्बई मुम्बई 1 महाराष्ट्र
2 गुजरात
3 गोवा
2 एन.सी.डी.सी. लखनऊ 1 उत्तर प्रदेश
2 उत्तरांचल
3 नारियल विकास बोर्ड कोच्चि 1 केरल
2 लक्ष्यद्वीप
4 नारियल विकास बोर्ड बंगलौर 1 कर्नाटक
5 नारियल विकास बोर्ड चेन्नई 1 तमिलनाडु
2 अन्डमान/निकोबार
6 एम.ए.एन.ए.जी.ई. हैदराबाद 1 आन्ध्र प्रदेश
7 निदेशक गेहूँ चण्डीगढ़ 1 चण्डीगढ़
2 जम्मू-कश्मीर
3 हिमाचल प्रदेश
4 पंजाब
8 एन.आई.ए.एम. जयपुर 1 राजस्थान
9 निदेशक, दलहन इन्दौर/भोपाल 1 मध्य प्रदेश
2 छत्तीसगढ़
10 निदेशक, जूट विकास कलकत्ता 1 पश्चिम बंगाल
2 बिहार
11 एस.एफ.ए.सी. कलकत्ता 1 एन.ई. स्टेट
12 एन.एच.बी. गुड़गांव 1 हरियाणा

किसान काल सेन्टर लेविल-2 की स्थापना का उद्देश्य

भारत सरकार के कृषि एवं सहकारिता मंत्रालय के सौजन्य से देश के विभिन्न क्षेत्रों में कर-मुक्त (मुफ्त) किसान काल सेन्टर स्थापित किये गये। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के किसानों को कृषि, पशुपालन, फसल-चक्र, कृषि जुताई की पद्धतियों, उर्वरक/खाद, मत्सियकी, कीट नियंत्रण, अन्तर-फसल, सिंचाई, ऋण, बाजार सूचना, मौसम की स्थिति आदि की सूचना विषय वस्तु विशेषज्ञों द्वारा उपलब्ध कराने हेतु किसान काल सेन्टर लेविल-2 की स्थापना उत्तर प्रदेश के विभिन्न 8 नामित संस्थाओं में की गयी है।

लेविल-1 व लेविल-2 के मध्य समन्वय तथा कार्य कर रहे अधिकारियों के प्रशिक्षण हेतु राज्य कृषि प्रबन्ध संस्थान, रहमानखेड़ा, लखनऊ को शासन के निर्देशानुसार कृषि निदेशक,उ० प्र० द्वारा किसान काल सेन्टर का नोडल एजेन्सी नामित किया गया है।

प्रदेश में स्थापित किसान काल सेन्टर-2 की संस्थाओं एवं हेल्प लाइन तथा समय का विवरण निम्नवत् है

क्र.सं. कृषि वि.वि. एवं अन्य संस्थाओं के नाम हेल्प लाइन का नम्बर समय
1 कृषि निदेशालय,उ० प्र०, लखनऊ 0522-2208082 प्रातः 9.30 से 6.00 तक
2 च.शे.आ.कृ. एवं प्रौ.वि.वि., कानपुर 0512-2533720 प्रातः 10.00 से 3.00 तक
3 नरेन्द्रदेव कृ. एवं प्रौ.वि.वि., फैजाबाद 05270-265666 05270-262666 प्रातः 10.00 से 3.00 तक
4 भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान, लखनऊ 0522-2482608 प्रातः 10.00 से 5.00 तक
5 केन्द्रीय उपोष्ण उद्यान संस्थान, लखनऊ 0522-2841172 प्रातः 10.00 से 5.00 तक
6 बैक आफ बड़ौदा, लखनऊ 0522-2626884 प्रातः 10.00 से 5.00 तक
7 भारतीय पशु अनुसंधान संस्थान, बरेली 0581-2531551 प्रातः 10.00 से 5.00 तक
8 केन्द्रीय एकीकृत नाशीजीव प्रबन्धन केन्द्र खजनी रोड 4, गोरखपुर 0551-2322316 0551-2322517 प्रातः 10.00 से 5.00 तक

किसान काल सेन्टर लेविल-3: किसान काल सेन्टर के दूरभाष पर कृषकों को प्राप्त प्रश्नों/समस्याओं का निराकरण यदि लेविल-1 एवं लेविल-2 के विशेषज्ञों द्वारा नहीं हो पाता है तो उसे अनुत्तरित प्रश्न को प्रदेश के नोडल अधिकारी द्वारा निराकरण 72 घण्टे के अन्दर किया जायगा।