कृषि विभाग,

उत्तर प्रदेश

पारदर्शी किसान सेवा योजना,

किसान का अधिकार किसान के द्वार

कृषि तिलहन


कृषि रक्षा उपकरण
अनुमन्य अनुदान की दर

मानव चालित नैपसेक स्पे्रयर/डस्टर/ फुटस्प्रेयर (आई0एस0आई0 मार्क

  1. उपकरण के मूल्य का 40 प्रतिशत अथवा रूपये 600/-प्रति, जो भी कम हो की दर से अनुदान अनुमन्य है।
  2. ख- लघु/ सीमांत /अनु0 जाति/जन जाति के कृषकों एंव न्यूनतम 05 महिलाओं के समूह को 10 प्रतिशत अधिक अनुदान अनुमन्य कराया जायेगा जो कि मूल्य का 50 प्रतिशत अथवा रूपये 800/-प्रति उपकरण, जो भी कम हो की दर से देय होगा।

शक्ति चालित (बैटरी ऑपरेटेड स्प्रेयर) (आई0एस0आई0 मार्क)

  1. उपकरण के मूल्य का 50 प्रतिशत अथवा रूपये 3000/-प्रति उपकरण, जो भी कम हो की दर से अनुदान अनुमन्य है।
  2. ख- लघु/ सीमांत /अनु0 जाति/जन जाति के कृषकों एंव न्यूनतम 05 महिलाओं के समूह को 10 प्रतिशत अधिक अनुदान अनुमन्य कराया जायेगा जो कि मूल्य का 60 प्रतिशत अथवा रूपये 3800/-प्रति उपकरण, जो भी कम हो की दर से देय होगा।
कृषि रक्षा उपकरण वितरण में निम्न निर्देशों का पालन आवश्यक रूप से सुनिश्चित किया जाये
  • निर्धारित लक्ष्यों के अनुरूप कृषि रक्षा उपकरण स्पे्रयर/डस्टर अनुदान पर कृषकों को वितरित किये जायेगें।
  • जनपद में एक कृषक को कृषि रक्षा उपकरण केवल एक ही योजना से अनुदान पर वितरित किया जायेगा तथा यह सुनिश्चित किया जाय कि वही लाभार्थी विभिन्न योजनाओं से कृषि रक्षा उपकरण अनुदान प्राप्त न कर सके एवं जिससे अधिकाधिक कृषक लाभान्वित हो सके। चयन में प्रत्येक ग्राम सभा में कम से कम एक कृषक का चयन किसान सहायक द्वारा अवश्य किया जाय।
  • कृषि रक्षा उपकरण वितरण पर देय अनुदान का भुगतान भौतिक सत्यापन एवं लाभार्थी से सन्तुष्टि प्रमाण-पत्र प्राप्त होने पर ही किया जाय।

उन्नतशील कृषि यंत्र वितरण

टैक्टर चालित कृषि यंत्र यथा Rotavator/ Seed Drill/Zero Till Seed Drill/ Multi-Crop Planter/Zero Till Multi-Crop Planter/ Ridge furrow Planter/ Raised bed planter/ Power weeder/ Groundnut digger and multi crop thresher पर यंत्र के मूल्य का 40 प्रतिशत या अधिकतम रू0 50000/- जो भी कम हो अनुदान देय है। लघु/ सीमांत /अनु0 जाति/जन जाति के कृषकों एंव न्यूनतम 05 महिलाओं के समूह को 10 प्रतिशत अधिक अनुदान अनुमन्य कराया जायेगा जो कि मूल्य का 50 प्रतिशत अथवा रूपये 63000/-प्रति उपकरण, जो भी कम हो होगा।

जी0आई0 बखारी वितरण

योजनान्तर्गत उत्पाद को सुरक्षित रखने हेतु कृषको को जी0आई0 टिन की बखारी का वितरण किया जायेगा। 10 कुन्तल तक की क्षमता वाली बखारी हेतु मूल्य का 25 प्रतिशत अधिकतम रू0 1000/- का अनुदान कृषकों को अनुमन्य होगा।

स्प्रिंकलर इरीगेशन वितरण

तिलहनी फसलों की खेती अधिकांशतः वर्षा पोषित स्थितियों मे की जाती है। जो मौसम की अनिश्चितता से कुप्रभावित है। उपलब्ध जल का सम्यक प्रयोग, अधिकाधिक क्षेत्र हेतु सिंचाई उपलब्ध कराने तथा फसल की क्रान्तिक अवस्थाओं पर पर्याप्त नमी सुनिश्चित करने के उददेश्य से कार्यक्रम अन्र्तगत स्प्रिंकलर इरीगेशन सिस्टम वितरण मद का समावेश किया गया है। प्राकृतिक असमतल भूमि जहां सतही बहाव द्वारा सिंचाई सम्भव नहीं है, वहां सिंचाई हेतु स्प्रिंकलर इरीगेशन सिस्टम आदर्श साधन है। वित्तीय वर्ष 2016-17 में भारत सरकार द्वारा नेशनल मिशन ऑन ऑयल सीड्स एण्ड ऑयल पॉम (N.M.O.O.P.) योजना एंव राज्य सरकार द्वारा संचालित तिलहन उत्पादन बढाने हेतु कृषकों को सहायता योजनान्तर्गत स्प्रिंकलर इरीगेशन सिस्टम पर निम्नवत् अनुदान अनुमन्य कराया जायेगा।

क्र०
सं०
मद का नाम भारत सरकार द्वारा ¼\ N.M.O.O.P.योजना से देय अनुदान राज्य सरकार द्वारा संचालित तिलहन उत्पादन बढाने हेतु कृषकों को सहायता योजना से अतिरिक्त देय अनुदान
1 स्प्रिंकलर इरीगेशन सिस्टम रु0 7500.00 प्रति हे0 रु0 7500.00 प्रति हे0

स्प्रिंकलर इरीगेशन सिस्टम का निर्धारित मूल्य प्राप्ति स्रोत, वितरण प्रक्रिया तथा अनुमन्य अनुदान की दर तथा अन्य दिशा-निर्देश निदेशालय द्वारा पृथक से जारी किये गये है। जिनका शत प्रतिशत पालन सुनिश्चित करना होगा।